एस्ट्राजेनेका की कोविड-19 रोधी वैक्सीन को पूरी तरह बैन करने वाला पहला यूरोपीय देश बना डेनमार्क


ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन (फाइल फोटो)

डेनमार्क (Denmark) ने ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका (AstraZeneca) टीका का उपयोग फिर से शुरू नहीं करने का फैसला किया.

कोपनहेगन. डेनमार्क (Denmark) ने बुधवार को ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका (AstraZeneca) टीका का उपयोग फिर से शुरू नहीं करने का फैसला किया. डेनमार्क ने कुछ लोगों में रक्त के थक्के बनने की खबरों के बीच पिछले महीने इस टीके के उपयोग को स्थगित कर दिया था. डेनमार्क हेल्थ अथॉरिटी के निदेशक सोरेन ब्रॉस्ट्रॉम ने पत्रकारों को बताया, ‘डेनमार्क का टीकाकरण अभियान एस्ट्राज़ेनेका वैक्सीन के बिना आगे बढ़ेगा.’

ब्रोस्ट्रॉम ने कहा ‘टीके और कम प्लेटलेट काउंट के बीच एक संभावित क्रॉस-रिएक्शन है. हम यह भी जानते हैं कि एक अस्थायी संबंध है. यह एस्ट्राजेनेका के साथ टीकाकरण के एक सप्ताह से दस दिन बाद होता है.’ ब्रोस्ट्रॉम ने कहा कि ‘निर्णय प्रासंगिक है. डेनमार्क में अधिकांश आबादी को टीका लगाया गया है और महामारी नियंत्रण में है.’

उन्होंने कहा कि ‘मैं अच्छी तरह से समझ सकता हूं कि अन्य देश टीके का उपयोग कर रहे हैं.’ डेनमार्क के स्वास्थ्य प्राधिकरण ने यह भी कहा कि ‘यदि स्थिति में परिवर्तन होता है तो टीके को बाद  फिर से पेश कर सकता है.’

यूरोपीय संघ कोविड टीकों के लिए करार बढ़ाने की खातिर फाइजर के साथ बातचीत करेगाइससे पहले यूरोपीय संघ आयोग की प्रमुख उर्सुला वॉन डेर लेयेन ने बुधवार को कोविड-19 टीकों के लिए फाइजर कंपनी के साथ करार बढ़ाने की योजनाओं की घोषणा की. इस करार की अवधि बढ़ाकर 2023 तक की जानी है. वॉन डेर लेयेन ने कहा कि यूरोपीय संघ (ईयू) 2023 तक फाइजर-बायोएनटेक की 1.8 अरब खुराक खरीदने के लिए बातचीत शुरू करेगा. फाइजर-बायोएनटेक कंपनी यूरोप के टीकाकरण अभियान का मुख्य आधार रही है.

वॉन डेर लेयेन ने फाइजर-बायोएनटेक टीके के लिए इस्तेमाल की जाने वाली तकनीक पर पूरा भरोसा जताया. यह तकनीक ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका टीका में प्रयुक्त तकनीक से अलग है. उन्होंने कहा कि हमें उन तकनीकों पर ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है जिन्होंने अपना प्रभाव साबित कर दिया है.

फाइजर-बायोएनटेक की योजना इस वर्ष की दूसरी तिमाही में यूरोपीय संघ को अतिरिक्त पांच करोड़ खुराकें मुहैया कराने की है. ये खुराकें पहले ही ईयू के लिए मंजूर 20 करोड़ खुराक से अलग होंगी. ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका टीका से संभवत: रक्त के थक्के बनने की आशंका तथा टीकों की आपूर्ति में देरी के बीच यूरोपीय संघ के 27 सदस्य देशों द्वारा इस घोषणा का स्वागत किया जाना तय है. (भाषा इनपुट के साथ)







Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *