नाइजीरिया: आतंकी संगठन बोको हराम के हमले में मारे गए 18 लोग, 21 घायल


प्रतीकात्मक तस्वीर.

आतंकी संगठन बोको हराम (Boko Haram) के क्रूर हमले में नाइजीरिया में 18 लोग मारे गए हैं और 21 लोग घायल हो गए हैं. इस हमले में संयुक्त राष्ट्र मानवीय केंद्र, निजी आवासीय घर, एक पुलिस स्टेशन, एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को नुकसान पहुंचा है.

अबूजा. आतंकी समूह बोको हराम (Boko Haram) के सदस्यों ने इस सप्ताह की शुरुआत में नाइजीरिया (Nigeria) के पूर्वोत्तर शहर दमसाक पर हमला किया, जिसमें 18 लोग मारे गए और 21 अन्य घायल हो गए. एक शीर्ष अधिकारी ने यह जानकारी दी. समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, बोर्नो राज्य के गवर्नर बाबागाना उमरा जुलुम ने शुक्रवार को पत्रकारों से हमले की पुष्टि करते हुए यह जानकारी दी. जुलुम ने कहा, ‘संयुक्त राष्ट्र मानवीय केंद्र, निजी आवासीय घर, एक पुलिस स्टेशन, एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र क्षतिग्रस्त हुई चीजों में शामिल है. उन्होंने कहा कि नुकसान का जायजा लेने और शहर में आतंकवाद रोधी अभियानों में शामिल सुरक्षा अधिकारियों के साथ बातचीत करने के लिए उन्होंने दमसाक का दौरा किया. बोको हराम 2009 से पूर्वोत्तर नाइजीरिया में एक इस्लामवादी राज्य स्थापित करने की कोशिश कर रहा है.

बोको हराम इस्लाम के जिस विचारधारा का समर्थक है, उसमें मुसलमानों को वोटिंग और धर्मनिरपेक्ष होने की सख्त मनाही है. यह पूरे विश्व में शरिया कानून लागू करने की बात कहता है. इसके संस्थापक मौलवी मोहम्मद युसुफ ने एक मस्जिद का भी निर्माण करवाया, जो इन दिनों जिहादी भर्ती का बड़ा केंद्र बनकर उभरा है. यह संगठन बच्चों को मानव बम बनाकर हमलों को अंजाम देता है.

ये भी पढ़ें: राउल कास्त्रो ने कम्युनिस्ट पार्टी के प्रमुख के पद से दिया इस्तीफा, क्यूबा में एक युग का अंत

पिछले साल नाइजीरिया में बोको हराम ने खेतों में काम करने वाले 43 मजदूरों की निर्मम हत्या कर दी थी और 6 को घायल कर दिया था. नाइजीरिया के मैदूगुरी में इस घटना को अंजाम दिया था. इस बारे में जिहादी-विरोधी सूत्रों ने जानकारी दी थी. उन्होंने बताया था कि बेहद क्रूर हमले में इन मजदूरों को पहले बांधा गया और फिर उनके गले काट दिए गए. साल 2009 के बाद से करीब 36 हजार लोगों की जिहादी विवाद में जान जा चुकी है और 20 लाख से ज्यादा विस्थापित हो चुके हैं.







Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *